Heart Touching Shayari- shayari4all

Hindi Heart Touching Lines | Heart Touching Shayari

Heart Touching Lines

गुमनामी का अँधेरा कुछ इस तरह छा गया है,
कि दास्ताँ बन के जीना भी हमें रास आ गया है।
Gumnaami Ka Andhera Kuchh Iss Tarah Chha Gaya Hai,
Ke Daastan Ban Ke Jeena Bhi Humein Raas Aa Gaya Hai.

अधूरी मोहब्बत मिली तो नींदें भी रूठ गयी,
गुमनाम ज़िन्दगी थी तो कितने सकून से सोया करते थे।
Adhuri Mohabbat Mili Toh Neendein Bhi Ruthh Gayin,
Gumnaam Zindgi Thi Toh Kitne Sukoon Se Soya Karte The.

जिंदगी बड़ी अजीब सी हो गयी है,
जो मुसाफिर थे वो रास नहीं आये,
जिन्हें चाहा वो साथ नहीं आये।
Zindagi Badi Ajeeb Si Ho Gayi Hai,
Jo Musafir The Woh Raas Nahi Aaye,
Jinhein Chaha Woh Saath Nahi Aaye.

किताबें भी बिल्कुल मेरी तरह हैं
अल्फ़ाज़ से भरपूर मगर खामोश।
Kitabein Bhi Bilkul Meri Tarah Hain,
Alfaz Se Bharpur Magar Khamosh.

वो मुस्कान थी कहीं खो गयी,
और मैं जज्बात था कहीं बिखर गया।
Woh Muskan Thi Kahin Kho Gayi,
Aur Main Jazbat Tha Kahin Bikhar Gaya.

हाथ से बीतते हुए लम्हों को कैसे रोकूँ,
जो मुकद्दर-ए-ज़िन्दगी है उसे कैसे टोकूं,
खुदा न करे कि ऐसा लम्हा आये,
जो सारी ख्वाहिशों को संग ले जाए,
इजाज़त बस खुदा से इतनी चाहिए,
जितनी भी ज़िन्दगी है बस तेरी याद में बीत जाये।

तेरे बिना भी क्या ज़िन्दगी,
चलती तो हवाएं भी हैं,
तेरे बिना क्या ज़िन्दगी,
बदलते तो रुख भी हैं,
फर्क बस इतना सा है,
कि हवाओं और रुख का मोड़ होता है,
मैं तो यूँ भी तेरे बिना बेवजह हूँ।

राह चलते तो हजारों मुसाफिर मिलते हैं,
ज़िन्दगी में तो कई मुसाफिर अपने बनते हैं,
अपनों और गैरों में भी बहुत फर्क होता है,
कुछ पास होके भी दूर हैं,
कुछ दूर होके भी दिल के सबसे करीब हैं।

Mujhe aasmano mein udne ka shok hain
Parindo ke beech khelne ka shok hain,
Agar mjhe Jaanna ho to jara dur se hi jaanna
Mai parwana hu mjhe aag me jalne ka shok h

मुझे आसमानो में उड़ने का शोक हैं,
परिंदो के बीच खेलने का शोक हैं,
अगर मुझे जानना हो तो जरा दूर से ही जानना
मैं परवाना हूँ, मुझे आग में जलने का शोक हैं|

परेशानी में कोई सलाह मांगे
तो सलाह के साथ अपना साथ भी देना,
क्योकि सलाह गलत हो सकती है, साथ नहीं..!!

नवम्बर में किसी का दिल मत दुखाना दोस्तों,
सुना है सर्दियों की चोट अक्सर तक़लीफ़ देती हैं।
November Me Kisi Ka Dil Mat Dukhana Dosto,
Suna Hai Sardiyon Ki Chot Aksar Takleef Deti Hai.

फिर से तेरी यादें मेरे दिल के दरवाजे पे खड़ी हैं,
वही मौसम वही सर्दी वही दिलकश नवम्बर है।
Fir Se Teri Yaaden Mere Dil Ke Darwaje Pe Khadi Hain,
Bahi Mausam Bahi Sardi Bahi Dilkash November Hai.

जिस्म जब थक जाये, तो जेहन दौड़ पड़ता है,
खुदा तेरी दुनिया में कुछ तो आराम हो ।
Jism Jab Thak Jaye To Jehan Daud Padta Hai,
Khuda Teri Duniya Me Kuch To Araam Ho.

शरारतें करने का मन अभी भी करता है,
पता नहीं बचपना जिंदा है या इश्क अधुरा है।
Shararte Karne Ka Man Abhi Bhi Karta Hai,
Pata Nahi Bachpana Zinda Hai Ya Ishq Adhura Hai.

गलती सुधारने का मौका तो उसी दिन से मिलना बंद हो गया था,
जिस दिन हाथ में पेंसिल की जगह पेन थमा दिया था।
Galti Sudharne Ka Mauka To Us Din Band Ho Gaya Tha,
Jis Din Hath Me Pencil Ki Jagah Pen Thama Diya.

ये जो इटें देख रहे हो, ये जब इमारतों में लगेंगी,
कुछ मस्जिद कहलाएंगी कुछ मंदिर।
Ye Jo Iten Dekh Rahe Ho, Ye Jab Imarato Me Lagengi,
Kuch Masjid Kahlayengi Kuch Mandir.

कल जिनकी खबर पड़ कर भूख सी नहीं थी,
आज उसी अखबार में रोटियां लपेटकर ले आया हूँ।
Kal Jinki Khabar Pad Kar Bhookh Si Nahin Thi,
Aaj Usi Akhbaar Me Rotiyan Lapetkar Le Aaya Hun.

कौन कहता है वक़्त मरता नहीं…
हमने सालो को खत्म होते देखा है दिसम्बर में।
Kaun Kahta Hai Waqt Marta Nahin…
Hamne Saalo Ko Khatm Hote Dekha Hai Decembar Me.

बहुत मुश्किल होता है,
हँसकर दर्द बर्दाश्त करना।
Bahut Mushkil Hota Hai,
Hanskar Dard Bardasht Karna.

दूरियां अच्छी लगने लगी है, अब मुझे।
जबरदस्ती के प्यार से अब मन थक चूका है।
Dooriyan Achhi Lagne Lagi Hai Ab Mujhe.
Jabardasti Ke Pyaar Se Ab Man Thak Chuka Hai.

ये नामुमकिन है कोई मिल जाए तुम जैसा,
पर इतना आसान ये भी नहीं,
तुम ढूंढ लो हम जैसा।
Ye Namumkin Hai Koi Mil Jaaye Tum Jaisa.
Par Itna Aasan Ye Bhi Nahi,
Tum Dhoondh Lo Hum Jaisa.

उसके गलत होने पर भी मैंने उसे चाहा था।
खुद की नजरों में खुद को गिराया था।
Uske Galat Hone Par Bhi Maine Use Chaha Tha.
Khud Ki Nazron Mein Khud Ko Giraya Tha.

तुम तो रह लेते हो हमारे बिना।
पता नहीं हमसे क्यों नहीं रहा जाता,
तुम्हारे बिना।
Tum To Rah Lete Ho Hamare Bina.
Pata Nahi Hamse Kyon Nahi Raha Jaata,
Tumhare Bina.

झूठी मोहब्बत, वफा के वादे,
साथ निभाने की कसमें।
इतना सब क्या तूने?
सिर्फ मेरे साथ वक्त गुजारने के लिए किया था।
Jhoothi Mohabbat, Wafa Ke Vaade,
Saath Nibhane Ki Kasme.
Itna Sab Kya Tune?
Sirf Mere Saath Waqt Guzarne Ke Liye Kiya Tha.

सुना है कोई और भी चाहने लगा है तुम्हें,
हमसे बढ़कर अगर चाहे, तो उसी की हो जाना।
Suna Hai..Koi Aur Bhi Chahne Laga Hai Tumhein.
Hamse Badhkar Agar Chahe To Usi Ki Ho Jaana.

जब जो चाहता है, मुझे रुला देता है।
मेरा दिल मोम ही तो है,
जब वो चाहता है, जला देता है।
Jab Jo Chahta Hai, Mujhe Rula Deta Hai.
Mera Dil Mom Hi To Hai,
Jab Wo Chahta Hai, Jala Deta Hai.

तुझे चाहा बहुत,
पर जताया कभी नहीं।
दोस्ती का रिश्ता भी ना खो दूं,
इसीलिए कभी बताया भी नहीं।
Tujhe Chaha Bahut,
Par Jataya Kabhi Nahi.
Dosti Ka Rishta Bhi Na Kho Doon,
Isiliye Kabhi Bataya Bhi Nahi.

धूप आती है कुछ रंजिशें लेकर
और हर शाम हमें दीवाना कर जाती है
Dhoop aati hai kuch ranjisehin le kar,
Aur har shaam humein deewani kar jaati hai.

शुरुवात कैसी भी हुयी हो दिल धड़कने की मेरी,
पर चाहता हूँ मैं कि इसका रुकना तुम्हारे साथ हो। 💕🥰🤗
Shuruwaat kaisi bhi huyi ho dil dhadkane ki meri,
par chahta hun main ki iska rukna tumhare sath ho. 💕🥰🤗

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *